जानिए भारत में कितने राज्य हैं? Bharat Main Kitne Rajya Hain

भारत एशिया महाद्वीप का दूसरा सबसे बड़ा देश है। यह देश अपनी विविधता, एकता, संस्कृति और अखंडता के लिए विश्व भर में प्रसिद्ध है। इसकी सीमाओं के साथ सात देशों की सीमाएं आकर जुड़ती हैं।

देखा जाएं तो क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का विश्व में सातवां स्थान है और जनसंख्या के मामले में यह चीन के बाद दूसरे स्थान पर आता है। भारत में अनेक राज्य, केंद्र शासित प्रदेश और नगर मौजूद हैं। ऐसे में आज हम भारत के कुल राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के बारे में जानेंगे।

भारत में कितने राज्य हैं? Bharat main kitne rajya hain?

वर्तमान समय में भारत में 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश हैं। जिनमें से क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान सबसे बड़ा राज्य है और जनसंख्या के मामले में उत्तर प्रदेश। तो वहीं क्षेत्रफल के अनुसार गोवा सबसे छोटा और जनसंख्या के मामले में सिक्किम सबसे छोटा राज्य है। केंद्र शासित प्रदेशों में अंडमान निकोबार और दिल्ली सबसे बड़े प्रदेश और लक्ष्यद्वीप सबसे छोटा है।

साल 2019 से पहले भारत 29 राज्य और 7 केंद्र शासित प्रदेशों में बंटा हुआ था। लेकिन जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद उसे और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया गया।


राज्य और उनकी राजधानी

राज्यराजधानी
आंध्र प्रदेशविशाखापट्टनम
अरुणाचल प्रदेशईटानगर
असमदिसपुर
बिहारपटना
छत्तीसगढ़रायपुर
गोवापणजी
गुजरातगांधीनगर
हरियाणाचंडीगढ़
हिमाचल प्रदेशशिमला
झारखंडरांची
कर्नाटकबेंगलुरू
केरलतिरुवंतपुरम
मध्य प्रदेशभोपाल
महाराष्ट्रमुंबई
मणिपुरइंफाल
मेघालयशिलांग
मिजोरमआइजोल
नागालैंडकोहिमा
ओडिशाभुवनेश्वर
पंजाबचंडीगढ़
राजस्थानजयपुर
सिक्किमगंगटोक
तमिलनाडुचेन्नई
तेलंगानाहैदराबाद
त्रिपुराअगरतला
उत्तर प्रदेशलखनऊ
उत्तराखंडदेहरादून
पश्चिम बंगालकोलकाता

केंद्र शासित प्रदेश और उनकी राजधानी

केंद्र शासित प्रदेशराजधानी
अंडमान निकोबार द्वीपपोर्ट ब्लेयर
चंडीगढ़चंडीगढ़
दादरा और नागर हवेलीदमन
दिल्लीदिल्ली
लक्ष्यद्वीपकवरत्ती
पुडुचेरीपांडिचेरी
जम्मू और कश्मीरश्रीनगर और जम्मू
लद्दाखलेह

राज्यों से संबंधित जानकारी

1. आंध्र प्रदेश – इसका गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा तेलुगू है। आंध्र प्रदेश की राजधानी विशाखापट्टनम है। यहां कुल 13 जिले हैं। इसको भारत का धान का कटोरा कहा जाता है।

2. अरुणाचल प्रदेश – इसका गठन 20 फरवरी 1987 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा अंग्रेजी है। अरुणाचल प्रदेश की राजधानी ईटानगर है। यहां कुल 25 जिले हैं। इसको भारत के उगते हुए प्रदेश का दर्जा दिया गया है।

3. असम – इसका गठन 26 जनवरी 1950 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा असमिया है। असम की राजधानी दिसपुर है। यहां कुल 33 जिले हैं। असम में ही भारत का प्रसिद्ध कामाख्या मंदिर स्थित है। साथ ही यहां गैंडों की सर्वाधिक प्रजाति पाई जाती हैं।

4. बिहार – इसकी स्थापना 22 मार्च 1912 को हुई थी। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। बिहार की राजधानी पटना है। यहां कुल 37 जिले हैं। बिहार में तक्षशिला और नालंदा जैसे प्राचीन और प्रसिद्ध विश्वविद्यालय स्थापित हैं।

5. छत्तीसगढ़ – इसका गठन 1 नवंबर 2000 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी और छत्तीसगढ़ी है। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर है। यहां कुल 28 जिले हैं। इसको भारत की महतारी यानी मां का दर्जा प्राप्त है।

6. पश्चिम बंगाल – इसका गठन 26 जनवरी 1950 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा बंगाली है। पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकत्ता है। यहां कुल 23 जिले हैं। पश्चिम बंगाल का हावड़ा ब्रिज देशभर में काफी मशहूर है।

7. उत्तराखंड – इसका गठन 9 नवंबर 2000 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून है। यहां कुल 13 जिले हैं। उत्तराखंड को “देव भूमि” के नाम से भी जाना जाता है।

8. उत्तर प्रदेश – इसका गठन 24 नवंबर 1950 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ है। यहां 75 जिले हैं। उत्तर प्रदेश राजनीतिक, आर्थिक और धार्मिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण प्रदेश है।

9. त्रिपुरा – इसका गठन 21 जनवरी 1972 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा बंगाली है। त्रिपुरा की राजधानी अगरतला है। यहां 8 जिले हैं। त्रिपुरा में  मौजूद त्रिपुर सुंदरी नमक देवी हिंदू धर्म में प्रचलित 51 शक्ति पीठों में से एक मानी जाती है।

10. गोवा – इसका गठन 30 मई 1987 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा कोंकणी है। गोवा की राजधानी पणजी है। यहां कुल 2 जिले हैं। यह राज्य पर्यटन की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है।

11. हरियाणा – इसका गठन 1 नवंबर 1966  को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ है। यहां कुल 22 जिले हैं। ऐतिहासिक दृष्टि से इस राज्य का विशेष महत्व है। हरियाणा राज्य में ही पानीपत और कुरुक्षेत्र का युद्ध लड़ा गया था। प्राचीन सिंधु घाटी सभ्यता के भी अधिकांश प्रमाण हरियाणा से प्राप्त हुए हैं।

12. कर्नाटक – इसका गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा कन्नड़ है। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू है। यहां कुल 30 जिले हैं। पहले इसे मैसूर नाम से भी जाना जाता है। संगीत और हिंदुस्तानी संगीत को इस राज्य का महत्वपूर्ण योगदान मिला है।

13. गुजरात – इसका गठन 1 मई 1960 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा गुजराती है। गुजरात की राजधानी अहमदाबाद है। गुजरात में कुल 33 जिले हैं। विश्व की सबसे ऊंची मूर्ति जिसे हम ” स्टैच्यू ऑफ यूनिटी” के नाम से जानते हैं, गुजरात में ही स्थित है।

14. झारखंड – इसका गठन 15 नवंबर 2000 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। झारखंड की राजधानी रांची है। यहां कुल 24 जिले हैं। यहां सबसे अधिक वन पाए जाते हैं। इसे झाड़ जंगलों और छोटा नागपुर प्रदेश के नाम से भी जानते हैं।

15. मेघालय – इसका गठन 1 अप्रैल 1970  को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा गारो और खासी है। मेघालय की राजधानी शिलांग है। यहां कुल 11 जिले हैं। यहां परिवारों में मातृवंशीय प्रणाली चलती है। साथ ही परिवारों में सबसे छोटी बेटी अपने माता पिता की देखभाल करती है और वह अपने माता पिता की संपूर्ण संपत्ति की अधिकारी होती है।

16. हिमाचल प्रदेश – इसका गठन 25 जनवरी 1971 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला है। यहां कुल 12 जिले हैं। हिमाचल में जल के स्त्रोत अधिक पाये जाते हैं, जिससे अन्य राज्यों को भी जल की आपूर्ति होती है।

17.  मध्य प्रदेश – इसका गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा हिंदी है। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल है। यहां कुल 52 जिले हैं। यहां सबसे अधिक वन पाए जाते हैं। मध्य प्रदेश धार्मिक और पर्यटन दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण प्रदेश है। प्रसिद्ध महा मंडलेश्वर, खजुराहो का मंदिर, सांची स्तूप, ग्वालियर का किला आदि मध्य प्रदेश के प्रमुख स्थल हैं।

18. महाराष्ट्र – इसका गठन 1 मई 1960 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा मराठी है। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई है। यहां कुल 36 जिले हैं। मुंबई देश की आर्थिक राजधानी है। जहां सबसे अधिक बंदरगाह पाए जाते हैं।

19. केरल – इसका गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा मलयालम है। केरल की राजधानी तिरुवनन्तपुरम है। यहां कुल 14 जिले हैं। भगवान परशुराम का शस्त्र “परशु” केरल की स्थापना का कारण बना था।

20. मणिपुर – इसका गठन 21 जनवरी 1972 को हुआ था। यहां की अधिकारिक भाषा मणिपुरी है। मणिपुर की राजधानी इम्फाल है। यहां कुल 16 जिले हैं। मणिपुर आभूषण की भूमि है और यह स्थान महाभारत के पात्र अर्जुन से भी सम्बंधित है।

21. मिजोरम – इसका गठन 20 फरवरी 1987 को हुआ था। यहां की अधिकारिक भाषा मिजो है। मिजोरम की राजधानी आईजोल है। यहां कुल 8 जिले हैं। मिजोरम साक्षरता दर के मामले में केरल के बाद दूसरे स्थान पर आता हैं।

22. नागालैंड – इसका गठन 1 दिसंबर 1963 को हुआ था। यहां की अधिकारिक भाषा अंग्रेजी है। नागालैंड की राजधानी कोहिमा है। यहां कुल 12 जिले हैं। नागालैंड में नाग जाति के लोग निवास करते हैं। यह प्राकृतिक विविधता वाला राज्य है।

23. ओडिशा – इसका गठन 26 जनवरी 1950 को हुआ था। यहां की अधिकारिक भाषा ओड़िया है। ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर है। यहां कुल 30 जिले हैं। यहां विश्व का सबसे लंबा बांध हीराकुंड बांध स्थित है। इतिहास का प्रसिद्ध कलिंग युद्ध भी यही हुआ था। ओडिशा में ही देशभर में प्रसिद्ध जगन्नाथ पूरी की रथ यात्रा निकाली जाती है।

24. पंजाब – इसका गठन 1 नवंबर 1966 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा पंजाबी है। पजांब की राजधानी चंडीगढ़ है। यहां कुल 22 जिले हैं।
देश भर में कृषि के क्षेत्र में पजांब का सबसे बड़ा योगदान है।

25. राजस्थान – इसका गठन 1 नवंबर 1956 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा राजस्थानी है। राजस्थान की राजधानी जयपुर है। यहां कुल 33 जिले हैं। राजस्थान से सिंधु घाटी सभ्यता की नींव रखी गई थी। महाभारत की कहानी में पांडवों का अज्ञातवास इसी राज्य की विराट नगरी में बिताया गया था।

26. सिक्किम – इसका गठन 10 अप्रैल 1975 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा अंग्रेजी है। सिक्किम की राजधानी गंगटोक है। यहां कुल 4 जिले हैं।
इसे चावल की घाटी की संज्ञा दी गई है।

27. तमिलनाडु – इसका गठन 26 जनवरी 1950 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा तमिल  है। तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई है। यहां कुल 32 जिले हैं। धार्मिक दृष्टि से इस प्रदेश का काफी महत्व है।

28. तेलंगाना – इसका गठन 2 जून 2014 को हुआ था। इसकी अधिकारिक भाषा तेलुगू और उर्दू  है। तेलांगना की राजधानी हैदराबाद है। यहां कुल 33 जिले हैं। तेलंगाना में लोग अपनी जीविका के लिए खेती करते हैं।

आशा करते हैं कि आपको हमारे द्वारा प्रेषित की गई जानकारी अवश्य पसंद आई होगी। ऐसी ही रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट – Gurukul99 पर दुबारा आना ना भूलें।

🌟🌟 यह भी पढ़ें 🌟🌟

भारत में कितने जिले हैं?


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page.