सार्थक और निरर्थक शब्द | Sarthak aur Nirarthak Shabd- Gurukul99

हिंदी व्याकरण में जिन शब्दों का कोई अर्थ मौजूद होता है, उन्हें सार्थक शब्द कहते हैं। सार्थक शब्द के मायने शब्द सहित अर्थ से लगाया जा सकता है। इस प्रकार जिस शब्द के साथ ही उसका अर्थ निहित होता है, वह सार्थक शब्द कहलाते हैं।

Click here to read religious stories

सार्थक शब्द | Sarthak Shabd

वे शब्द जो किसी निश्चित अर्थ का बोध करवाते है ऐसे शब्दों को सार्थक शब्द (Sarthak Shabd) कहा जाता है अर्थात “वर्णों का ऐसा संयोग जिसका कोई अर्थ हो सार्थक शब्द कहलाते है

उदाहरण – Sarthak Shabd ke udharan 

जैसे: पानी, आकाश, रास्ता, हवा आदि

निरर्थक शब्द | Nirarthak Shabd

निरर्थक शब्द का संधि विच्छेद है – नि + अर्थक यानि बिना अर्थ का शब्द। इस प्रकार जिन शब्दों का कोई अर्थ नहीं होता है, उन्हें निरर्थक शब्द कहा जाता है। इस प्रकार जिन शब्दों से उनके अर्थ का बोध नहीं होता है वह निरर्थक शब्द कहलाते हैं। हालांकि इनका प्रयोग अक्सर सार्थक शब्दों के साथ किया जाता है। इसे आम बोल चाल की भाषा में बोले जाने वाले निम्न शब्दों के उदाहरण के माध्यम से समझा जा सकता है।

उदाहरण – Nirarthak Shabd ke udharan 

1. मीठा शिठा

2. होटल शोटल

3. पानी वानी

4. खाना वाना

5. कपड़े वपड़े

आशा करते है आपको यह ज्ञानवर्धक जानकारी अवश्य पसंद आई होगी। ऐसी ही अन्य धार्मिक और सनातन संस्कृति से जुड़ी पौराणिक कथाएं पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलेंहिंदू धार्मिक कहानियां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हिंदू धार्मिक कहानियां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
प्रेरक कहानियां पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

Leave a Comment