10 Lines on Republic Day in Hindi

10 Lines on Republic Day in Hindi

गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन (वाक्य)

हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन हमारे भारत का संविधान लागू हुआ था। गणतंत्र दिवस मनाने का उद्देश्य भारत को एक लोकतांत्रिक और गणतांत्रिक देश बनाना है। यह दिवस राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है।

ऐसे में आज हम स्कूली बच्चों के अध्ययन की सुविधा के लिए गणतंत्र दिवस पर 10 लाइन हिंदी में लेकर आए हैं। जोकि आपके निबंध, लेख या किसी प्रतियोगिता में अवश्य काम आएगी।


10 Lines on Republic Day

  1. भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था। इसी दिन से गणतंत्र दिवस मनाने की शुरुआत हुई। इस दिन राष्ट्रीय पर्व के अवसर पर सरकारी छुट्टी रहती है।

  2. गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाता है। और देश की राजधानी को दुल्हन की भांति सजाया जाता है।

  3. 26 जनवरी के दिन भारत एक प्रजातांत्रिक देश घोषित हुआ था।

  4. भारत का संविधान बनने में 2 वर्ष, 11 माह और 18 दिन का समय लगा था। जिसमें कुल 22 सम्मेलन हुए थे।

  5. भारतीय संविधान को संविधान सभा द्वारा 26 जनवरी 1949 को अपनाया गया था। जबकि इसकी नीवं 1946 में पड़ गई थी।

  6. भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है। जिसको लगभग 60 देशों के संविधानों का अवलोकन करके तैयार किया गया है।

  7. 26 जनवरी को भारतीय सेना द्वारा परेड का आयोजन किया जाता है। इस दिन तीनों सर्वोच्च सेनाओं द्वारा शक्ति प्रदर्शन भी किया जाता है।

  8. गणतंत्र दिवस वाले दिन देश के राष्ट्रपति लाल किले से संबोधन देते हैं। और देश के प्रधानमंत्री तिरंगा फहराते हैं।

  9. भारतीय संविधान का जनक डॉ. भीमराव अम्बेडकर को कहा जाता है। इसके साथ ही अन्य कई गणमान्य लोगों की उपस्थिति में संविधान बनकर तैयार हुआ था।

  10. गणतंत्र दिवस वाले दिन भारतीय नागरिकों को सम्मान देने के लिए उन्हें उनके क्षेत्र में वीरता का परिचय देने के लिए वीर चक्र और परमवीर चक्र प्रदान किए जाते हैं।

इस प्रकार, हमने अपने उपरोक्त लेख (10 Lines on Republic Day in Hindi) के माध्यम से गणतंत्र दिवस के बारे में आवश्यक जानकारी प्राप्त की। गणतंत्र दिवस पर देश में एकता, अखंडता और समानता का संदेश दिया जाता है।

तो ऐसे में आपको गणतंत्र दिवस से जुड़ी यह जानकारी कैसे लगी? कॉमेंट करके जरूर बताइएगा। इसी प्रकार की अन्य रोचक जानकारियां हासिल करने के लिए Gurukul99 पर दुबारा आना ना भूलें।

– -यह भी पढ़े- –
गणतंत्र दिवस पर निबंध


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a New Comment