RIP Ka Matlab

आधुनिक समय में जब किसी व्यक्ति की मौत हो जाती है। तो उपरोक्त व्यक्ति की मौत के बाद उसके जानने वाले लोग RIP शब्द का इस्तेमाल करते हैं।

RIP की फुल फॉर्म Rest In Peace होती है।


जिसे शॉर्ट फॉर्म में RIP बोला या लिखा जाता है। इसका प्रयोग शोक या मृत्यु के समय अन्य लोगों द्वारा मृत व्यक्ति की आत्मा की शांति के लिए किया जाता है।

परन्तु क्या आप जानते हैं कि RIP शब्द कहां से आया? और इसका क्या प्रयोग है? यदि नहीं तो आज हम अपने इस लेख में आपको इसी के बारे में जानकारी देने वाले हैं।


दुनिया में जब से इंटरनेट का प्रचलन बढ़ा है। तब से लोग बातचीत के लिए अनेक बड़े शब्दों को सुविधानुसार शॉर्ट फॉर्म में प्रयोग करने लगे हैं। जिनका प्रयोग अक्सर सोशल मीडिया पर बातचीत के दौरान किया जाता है। उदाहरण – OK, OMG, Oh, Hello, TC, RIP आदि। इनमें से आज हम RIP शब्द के बारे में जानेंगे।


RIP शब्द की उत्पत्ति

RIP शब्द लैटिन भाषा का शब्द है। जोकि Requiescat in pace से मिलकर बना है। जिसका अर्थ Rest In Peace है।

हमारे समाज के मुस्लिम और ईसाई धर्म को मानने वाले लोगों के यहां ऐसी मान्यता है कि जिस दिन कयामत का दिन (Judgement day) आएगा। उस दिन कब्रों में लेटे समस्त शव पुनर्जीवित हो जाएंगे।

इसलिए उन्हें तब तक Rest In Peace यानि शांति से आराम करने को कहा जाता है। साथ ही मृत व्यक्ति की कब्र के ऊपर भी RIP लिखा हुआ होता है। जबकि साधारण लोग RIP से अभिप्राय मृत व्यक्ति की आत्मा को शांति देने से लगाते हैं।


इस प्रकार हम कह सकते हैं कि प्रत्येक धर्म में इंसान के मरने के बाद अलग अलग तरीके और वाक्यों का इस्तेमाल किया जाता है। और RIP शब्द का प्रयोग भी मृत व्यक्ति की आत्मा को श्रद्धांजलि देने के उद्देश्य से किया जाता है।

उम्मीद है आपको हमारे द्वारा प्रेषित की गई यह जानकारी – RIP Ka Matlab अच्छी लगी होगी। ऐसी ही रोचक जानकारियों के लिए Gurukul99 पर दुबारा आना ना भूलें।


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page.