सैम वाल्टन का जीवन परिचय | Sam Walton Biography in Hindi

एक सेल्समैन से टॉप बिजनेसमैन बनने की अनोखी कहानी, जानिए हमारी जुबानी

Business में केवल एक ही बॉस होता है और वो है ग्राहक

सैम वाल्टन

सैम वाल्टन एक जाने माने अमेरिकन उद्योगपति हैं। जिन्हें Walmart नामक प्रसिद्ध retail company के संस्थापक के तौर पर जाना जाता है। इनके द्वारा स्थापित की गई retail company ने मौजूदा बाजार के रुख को ही बदलकर रख दिया था।

इनका मानना था कि यदि ग्राहक को अन्य दुकानों की तुलना में कम दाम में सामान बेचेंगे, तो हमें ग्राहक की संतुष्टि और मुनाफा दोनों की ही प्राप्ति होगी। इसी प्रकार के विचारों से ओतप्रोत सैम वॉल्टन के जीवन के बारे में आज हम आपको विस्तार से बताने वाले हैं। इसके साथ ही हम उनके द्वारा स्थापित की गई Walmart Company के इतिहास को भी जानेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं……

सैम वॉल्टन का परिचय संक्षिप्त में (Sam Walton Short Bio)

पूरा नाम – सैमुअल मूर वॉल्टन (samuel Moore Walton)
जन्म तिथि – 29 मार्च 1918
मृत्यु तिथि – 5 अप्रैल 1992
मृत्यु का कारण – कैंसर
आयु – 74
जन्म स्थान – किंगफिशर, ओक्लाहोमा (यूएस)
पिता का नाम – थॉमस गिब्सन वॉल्टन
माता का नाम – नैंसी ली
भाई बहन – 1
जीवनसाथी का नाम – हेलेन रॉबसन
बच्चे – 3 बेटे और 1 बेटी
शिक्षा – अर्थशास्त्र में स्नातक डिग्री
कॉलेज – University of Missouri
वैश्विक पहचान – founder of walmart company (1988)
पुरस्कार और सम्मान – presidential medal of freedom, राष्ट्रपति पदक (1992 में अमेरिका के राष्ट्रपति जॉर्ज एच डबल्यू बुश द्वारा प्राप्त हुआ)
औसत आय – 8.6 बिलियन (1992 तक)


सैम वॉल्टन का जीवन परिचय (Sam Walton Life)

सैम वाल्टन का जन्म ओक्लाहोमा (United States of America) में 29 मार्च 1918 को एक साधारण से परिवार में हुआ था। इनके पिता थॉमस गिब्सन वॉल्टन एक किसान थे। इनकी माता नैंसी ली एक ग्रहणी थी।

इनका पूरा नाम सैमुअल मूर वॉल्टन है। इनके छोटे भाई का नाम जेम्स था। सैम बचपन से ही पढ़ाई में काफी अच्छे थे। इन्होंने अपनी आरंभिक शिक्षा मिसौरी के शेलबिना स्कूल से पूरी की थी। जहां जब वह 8वीं कक्षा में पढ़ रहे थे, तब उन्हें सबसे कम उम्र का ईगल स्काउट बनाया गया था।

फिर जब वह अपने परिवार के साथ कोलंबिया में बस गए, तब उन्होंने दसवीं की पढ़ाई के लिए डेविड हिकमैन हाई स्कूल, कोलंबिया में दाखिला लिया। जहां उन्हें मोस्ट वर्सेटाइल बॉय का अवॉर्ड मिला था। इसके बाद सैम आगे की पढ़ाई के लिए रिजर्व ऑफिसर्स ट्रेनिंग कोर (ROTC) की ओर से Missouri University पहुंचे।

जहां से उन्होंने वर्ष 1940 में अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री हासिल की। इस दौरान सैम वाल्टन को अपने कॉलेज के छात्रों के लिए बाइबल क्लास के अध्यक्ष के रूप में सेवा देने का मौका मिला। सैम वाल्टन कॉलेज के दिनों में QEBH के भी सदस्य चुने गए थे। जोकि वहां के वरिष्ठ व्यक्तियों और सैन्य समाज के लोगों का समूह हुआ करता था।

बात करें सैम वाल्टन के व्यक्तिगत जीवन के बारे में, तो इन्होने14 फरवरी 1943 को हेलेन रॉबसन से शादी की थी। जिनसे उन्हें 3 बेटे और 1 बेटी हुई थी। इन्हे हमेशा अपने परिवार के साथ धार्मिक और सामाजिक कार्यों में भाग लिया करते थे। इनका एक फाउंडेशन भी गरीबों के कल्याण के लिए बनाया गया था। साथ ही उन्हें शिकार पर जाना और बच्चों को पढ़ाना भी बहुत पसंद था।


सैम वॉल्टन का करियर (Sam Walton Career)

सैम वाल्टन के परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी नहीं थी। जिसके कारण उन्होंने युवावस्था में खेती करना, पत्रिकाएं बांटना, दूध बेचना, गाय पालना, समाचार पत्र बेचना आदि अनेक काम किए।

इन्होने अपने करियर के शुरुआती दिनों में जे सी पेनी (American Department Store) में कुछ वक्त के लिए बतौर सेल्स मैन कार्य किया। यहीं से उन्होंने कारोबार में ”संतुष्टि अधिक और कम मुनाफा” के सिद्धांत पर विचार करना आरंभ कर दिया था।

लेकिन साल 1942 में द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान उन्होंने नौकरी छोड़कर सेना में भर्ती होकर अपने देश प्रेम का परिचय दिया। जहां उन्होंने युद्ध के दौरान अमेरिकी सेना में खुफिया तंत्र के तौर पर कार्य किया। साथ ही वह विमान और शिविर कैदी की सुरक्षा का भी उत्तरदायित्व संभालते थे।

ये युद्ध के दौरान कप्तान के पद पर भी नियुक्त किए गए थे। युद्ध समाप्ति के बाद इन्होने ने थोड़ा रुपया उधर लेकर और अपनी सारी बचतों को लगाकर न्यूपोर्ट (अर्कासस) में Ben Frenklin Store की एक फ्रेंचाइजी को खरीद लिया। जहां उन्होंने अन्य stores की तुलना में काफी कम कीमत पर अपने ग्राहकों को सामान बेचा।

धीरे-धीरे जब इन्हे अपने व्यापार में फायदा पहुंचने लगा, तब उन्होंने अपने भाई के साथ मिलकर इसकी और कई फ्रेंचाइजी खरीद ली। हालांकि बेन फ्रैंकलिन के अधिकारी उनके इस कम कीमत और अधिक बिक्री वाले सिद्धांत को ठीक नही मानते थे।

ऐसे में कुछ समय पश्चात् इन्होने अपना खुद का स्टोर खोलने की सोची। फिर साल 1950 में बेंटोनविल में Sam 5 and Sam 10 करके एक store खोला। देखते ही देखते उन्होंने इसके भी कई सारे stores खोल लिए और प्रसिद्धि समेत काफी मुनाफा भी कमाया।


वॉलमार्ट कंपनी का इतिहास (History of Walmart company)

सैम वाल्टन द्वारा Walmart के signature पर लिखे गए दो सबसे महत्वपूर्ण शब्द हैं:-

Satisfaction Guaranteed (संतुष्टि की गारंटी)

2 जुलाई 1962 में सैम वाल्टन ने मात्र 44 वर्ष की उम्र में अपना पहला Walmart store रोजर्स शहर में खोला। जहां उन्होंने अपने भाई जेम्स और स्टीफन दासबैक के साथ व्यापार किया। इनका शुरू ये यही कहना था कि हम रियायती कीमत पर अब बड़े stores खोलेंगे। जिनका प्रमुख उद्देश्य कम कीमत पर ग्राहकों को माल बेचकर अधिक से अधिक उनको संतुष्टि पहुंचाना है।

ऐसे में अपनी कम उत्पाद कीमतों के चलते Walmart बहुत ही कम समय में पूरे अमेरिका भर में प्रसिद्ध हो गया। वर्ष 1967 तक इन्होने Walmart के लगभग 24 stores खोल लिए थे। जहां अब तक वह 12.7 मिलियन की बिक्री कर चुके थे। Walmart को साल 1969 में company की मान्यता मिल गई।

इसके बाद जब साल 1970 में Walmart प्राइवेट लिमिटेड बन गया। Walmart company का पहला share 16.50 डॉलर का था। साल 1971 में सैम वाल्टन ने Walmart का distribution centre बेंटोनविल अर्कंसास में खोला। 

फिर साल 1972 में जब Walmart Newyork Stock Exchange में भी शामिल हो गई। तब Walmart company की सालाना बिक्री 74 मिलियन तक पहुंच गई। इसी दौरान इसके करीब 51 stores ko stock exchange में शामिल कर लिया गया।

फिर साल 1975 में Walmart cheer और साल 1979 में Walmart foundation की स्थापना की गई। 1980 आते आते जब Walmart की सालाना बिक्री करीब 1 बिलियन तक पहुंच गई, तब Walton foundation की स्थापना की गई। जिसके माध्यम से जरूरतमंदों तक जरूरी सेवाएं पहुंचाई जाती हैं।

1983 में सैम वाल्टन द्वारा Sam’s Club की स्थापना की गई। इसके बाद इन्होने अपनी Company को आधुनिक तकनीक से जोड़ दिया। साल 1988 में इन्होने मिस्सोरी (वॉशिंगटन) में Walmart का एक super center खोला, जहां भारी मात्रा में stock रखा जाता है।

और साल 1990 तक उनकी company के share की वैल्यू 45 बिलियन हो गई। इस प्रकार, साल 1991 में Walmart दुनिया की नंबर वन retail company बन गई। साथ ही इसने मेक्सिको की सबसे बड़ी कंपनी के साथ ज्वाइंट वेंचर बनाकर खुद को बहुराष्ट्रीय company घोषित कर लिया।

वर्तमान में Walmart company के करीब 28 देशों में 11,000 stores हैं। जिसमें वर्तमान में करीब 25 लाख से ज्यादा कर्मचारी कार्यरत हैं। जो सब आज सैम वाल्टन के business idea यानि कम कीमत में suppliers से अधिक माल खरीदकर, उसे कम मुनाफे पर ही बेचकर अधिक बिक्री कर रहे हैं।

इस प्रकार, walmart एक अमेरिकन company है। जो सम्पूर्ण विश्व के अनेक देशों में online store, discount Stores और general merchant के stores चलाती है।


Walmart के अन्य महत्वपूर्ण साल

1993: एक हफ्ते में 1 बिलियन सेल

1994: कनाडा में 122 stores खोले

1996: चीन में walmart का पहला store

1997: सालाना बिक्री 100 बिलियन करने वाली पहली company

1998: ब्रिटेन में stores खोले।

2000: online shopping portal का निर्माण।

2002: अमेरिका की 500 बड़ी companies में शीर्ष पर (Fortune 500)

2005: तूफान पीड़ितों को दी 18 मिलियन की आर्थिक मदद

2007: अधिकतर stores पर online payment की सुविधा

2009: सालाना बिक्री 400 बिलियन और चिली में निवेश

2010: भारत में बेस्ट प्राइज नाम से खोला अपना पहला store, साथ ही 2 बिलियन डॉलर से भूखे और गरीबों की मदद करने का दिया आश्वासन।

2011: साउथ अफ्रीका में खोला अपना पहला store।

2012: company ने मनाई अपनी silver jubilee।

2015: Doug Mcmilon को नियुक्त किया company का CEO। वर्तमान में वालमार्ट के सीईओ भी यही हैं।

2018: भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कम्पनी flipkart की 77% हिस्सेदारी खरीदी और किया भारत में अब तक का सबसे बड़ा निवेश।


सैम वॉल्टन की मृत्यु (Sam Walton Death)

सैम वॉल्टन ने वर्ष 1988 में walmart company का सीईओ पद ग्रहण किया था। लेकिन साल 1992 में 5 अप्रैल को इनकी मृत्यु हो गई। वह जीवन के अंतिम समय में बाल कोशिका ल्यूकेमिया और अस्थि मज्जा कैंसर से पीड़ित थे।

हम कह सकते हैं कि रिटेल जगत में नई क्रांति का संचार करने वाले सैम वॉल्टन ने दुनिया में व्यापार करने की एक नई सोच विकसित की। जिसके लिए उन्हें साल 1982 से लेकर 1988 तक फोर्ब्स की सूची में टॉप 100 और संयुक्त राज्य अमेरिका का सबसे धनी व्यक्ति घोषित किया गया।

साथ ही इनके द्वारा लोगों को अधिक लाभ और स्वयं कम मुनाफा कमाने की नीति ने उन्हें Presidential Medal of Freedom का सम्मान दिलाया।


सैम वॉल्टन के प्रेरक विचार (Sam Walton Quotes)

1. दुनिया में सफल होने के लिए खुद को हर समय बदलना पड़ेगा।

2. जीवन में ऊंची उम्मीदें रखना ही प्रत्येक चीज़ को पाने की कुंजी हो सकती है।

3. हम सब लोग एक साथ कार्य कर रहे हैं, यही सबसे बड़ा रहस्य है।

4. दुनिया में मौजूद प्रत्येक चीज़ में बेहतर ढूंढने की कोशिश करो, फिर उसे अपनी आवश्यकताओं के अनुकूल बनाओ।

5. आपका ग्राहक जो चाहता है, उस पर पहले विचार करें फिर उसे वितरित करें।

6.  जो नेता उच्च विचारों वाला होता है, वह अपने कर्मियों के आत्मसम्मान में वृद्धि करने के लिए अपनी पूर्ण जान लगा देता है।

7. आप यदि अपने ग्राहकों की बात नहीं मानते हैं, तो कोई और मानेगा क्या?

8. प्रत्येक व्यक्ति को अनुमान लगाने दें कि अगला पड़ाव क्या होने वाला है, बहुत अधिक पूर्वानुमानित होना चाहिए।

9. हममें से अधिकतर लोग विचारों का आविष्कार नहीं करते हैं, बल्कि दूसरों के विचारों को ग्रहण करते हैं।

10. लोग जब अकेले होते हैं, तो वह व्यवसाय में नही जीतते हैं। बल्कि एक पूरी टीम जीतती है।

11. किसी भी company में केवल एक ही मालिक होता है और वह है ग्राहक। जो किसी भी company में चेयरमैन के अलावा सबको पद से हटा सकता है। केवल अपना पैसा और कहीं खर्च करके।

12. जो लोग पर्याप्त कठिन परिश्रम करते हैं, वह नकारात्मक को सकारात्मक बना सकते हैं।

13. इस दुनिया में आप प्रत्येक व्यक्ति से सीख सकते हैं।

14. यदि लोग एक सा कार्य कर रहे हैं तो आपके लिए ये एक सुअवसर हो सकता है, क्योंकि जब आप विपरीत तरीके से किसी काम को करने की कोशिश करते हैं, तो आप एक अच्छा मार्केट प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आपको पारंपरिक ज्ञान और तरीकों को अनदेखा करना होगा।

15. व्यक्ति को अपने व्यापार के लिए प्रतिबद्ध रहना चाहिए। उसको किसी और से अधिक अपने व्यापार पर विश्वास करना चाहिए।

16. जो लोग अपने काम से प्यार करते हैं। वह प्रत्येक दिन अपने कार्य को अच्छा करने की कोशिश करते हैं, और बहुत जल्दी लोग आपके ही जुनून को समझ लेंगे।

17. महान विचार कहीं से भी आ सकते हैं। जिस आप सुनते हैं और देखते हैं। क्योंकि आपको कभी यह नहीं ज्ञात होता है कि कोई महान विचार आपके पास कहां से आने वाला है।

18. जो व्यक्ति अपनी मुस्कान खो देता है, वह अपने ग्राहकों को भी खो देता है।

19. नेताओं को हमेशा अपने लोगों को अपने सामने रखना चाहिए। इससे आपका व्यापार स्वयं अपना ख्याल रखने में सक्षम हो जाता है।

20. मैं सदैव जीवन में लक्ष्य रखने में विश्वास रखता हूं, और हमेशा उन्हें ऊंचा रखता हूं।

21. अगर मुझे जीवन में कभी किसी एक चीज़ का चुनाव करना पड़े। तो मेरे जीवन के लिए सबसे बड़ा अंतर था, तो यह प्रतिस्पर्धा करने का जुनून होगा।

22. मैंने जीवन में जो कुछ भी किया है, अधिकतर किसी और का नकल किया है।

23. मेरी भूमिका अच्छे लोगों का चुनाव करना है। जिनको अधिकतम अधिकार और जिम्मेदारी देना मेरा कर्तव्य है।

24. व्यक्ति को अपनी प्रतिस्पर्धा से बेहतर अपने खर्चों पर नियंत्रण रखना चाहिए। यही वह जगह है जहां आप एक प्रतियोगी की तरह लाभ पा सकते हैं।

25. अपनी सफलता का जश्न मनाओ और अपनी असफलताओं में हास्य ढूंढो।

26. व्यापार एक निरंतर चलने वाला प्रतिस्पर्धा का प्रयास है। जबकि नौकरी केवल तब तक सुरक्षित रहती है जब तक अपने ग्राहक संतुष्ट हैं।

27. केवल एक रात में सफलता पाने के लिए इसके पीछे 20 साल लगे हैं।

28. मैंने अपनी मंजिल चुनी और आगे बढ़ता गया। जहां मैंने हर बार से और बेहतर किया।

29. अपने ग्राहकों को सदैव उनकी उम्मीद से अधिक देने का प्रयत्न करें। तभी वह आपके पास बार बार आयेंगे।

30. आपके व्यापार को बढ़ाने के लिए आपके सहयोगी जो कुछ भी करते हैं, उनकी प्रशंसा अवश्य करें।

इस प्रकार सैम वॉल्टन जोकि न केवल एक प्रसिद्ध उद्यमी थे, बल्कि एक महान् व्यक्तित्व और समाज सेवी भी थे। जिन्होंने अपना सम्पूर्ण जीवन अपने ग्राहकों की सेवा और उनकी संतुष्टि में व्यतीत कर दिया। उनका प्रेरक जीवन हम सबको सदैव स्मरणीय रहेगा।

आशा करते हैं कि Sam Walton ki Jivani आपको अवश्य पसंद आई होगी। इसी प्रकार से महान व्यक्तियों के बारे में जानने के लिए हमारी वेबसाइट Gurukul99 पर दुबारा आना ना भूलें।


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page.