संदीप माहेश्वरी की जीवनी – Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

Sandeep Maheshwari ki Jivani

दुनिया में अपनी असफलताओं से सीखकर दूसरों को प्रेरित करने से बड़ा कोई कार्य नहीं होता। 21 वीं सदी के युग में युवा दिलों की धड़कनों में एक ऐसा ही नाम बसता है वो है प्रसिद्ध मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी।

जिन्होंने लाखों मोटिवेशनल सेमिनार्स का आयोजन कर लोगों खासकर वर्तमान युवा पीढ़ी की जिंदगी में जोश भरा है। इतना ही नहीं वह एक सफ़ल मोटिवेशनल स्पीकर होने के साथ-साथ एक उद्यमी के तौर पर भी जाने जाते हैं। तो चलिए जानते है संदीप माहेश्वरी के सफल जीवन की कहानी की शुरुआत कैसे हुई?


संदीप माहेश्वरी का आरंभिक जीवन – Life Story

Sandeep Maheshwari ki Jivani – आरंभिक जीवन

भारत के जाने माने मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी का जन्म 28 सितम्बर 1980 की देश की राजधानी दिल्ली में हुआ था। इनके पिता का नाम रुप माहेश्वरी और माता का नाम शकुंलता रानी माहेश्वरी है। इनकी एक छोटी बहन भी है।

साथ ही इनके पिता का एल्युमिनियम का व्यापार था। लेकिन जब संदीप माहेश्वरी 10 वीं कक्षा में थे, तभी किसी कारणवश उनके पिता का सारा व्यापार चौपट हो गया। और इनके परिवार की आर्थिक स्थिति खराब हो गई। इसी दौरान इनकी मां ने खजूर के पान बनाकर बेचना शुरू कर दिया था।

और जिसमें संदीप अपनी मां की मदद किया करते थे। कुछ दिनों बाद उन्हें इस व्यापार में भी काफी परेशानी उठानी पड़ी। और 90 का दशक आते आते संदीप और उनके अभिभावकों ने मिलकर पीसीओ की दुकान खोली। लेकिन मानो उस वक़्त उनकी आर्थिक स्थिति सही होने का नाम ही नहीं ले रही थी, कि कुछ दिनों बाद उनकी यह दुकान भी बंद हो गई।

और जब संदीप माहेश्वरी मात्र 18 वर्ष के थे, तो उस दौरान वह एमएलएम के एक सेमिनार में गए। जहां उन्होंने एक 21 साल के लड़के को यह कहते सुना कि वह इस उम्र में महीने का ढाई लाख रुपए कमा रहा है। यह बात संदीप माहेश्वरी को प्रभावित कर गई।

तब से उन्होंने ठान लिया कि वह जिंदगी में सबसे ज्यादा पैसा कमाएंगे। इसके अलावा संदीप माहेश्वरी की पत्नी का नाम नेहा माहेश्वरी है। जिनसे इन्हें एक बेटा और एक बेटी है।


संदीप माहेश्वरी का करियर – Career

Sandeep Maheshwari Biography in Hindi - करियर
Sandeep Maheshwari Biography in Hindi – करियर

उस सेमिनार से लौटने के बाद संदीप माहेश्वरी ने सोच लिया था कि वह अब बहुत पैसा कमाएंगे। लेकिन उनकी इस तरह की बातें सुनकर अक्सर लोग उनका मजाक उड़ाया करते थे। लेकिन संदीप माहेश्वरी एक बार जो ठान लेते थे, वह करके रहते थे।

एक बार की बात है उनसे किसी ने कह दिया कि तू हीरो की तरह लगता है। तब क्या था वह उनकी बात सुनते ही मॉडल बनने निकल पड़े। इतना ही नहीं उन्होंने मॉडल बनने के लिए कॉलेज बीच में ही छोड़ दिया। जबकि वह दिल्ली के करोड़ीमल कॉलेज से वाणिज्य में स्नातक कर रहे थे।

लेकिन उन्हें यह नहीं मालूम था कि उनकी अब राह मुश्किल होने वाली हैं। जब मॉडल बनने के दौरान उन्होंने वहां लगी भीड़ को निहारा तो समझे कि यहां तो भीड़ ही भीड़ है। लेकिन फिर भी उन्होंने कई सारे म्यूजिक विडियोज भी किए। परन्तु वक़्त के साथ उन्हें मालूम चला कि कई सारी मॉडलिंग कंपनीज़ में फर्जीवाड़ा है।

इसके कुछ वक़्त बाद उन्हें फोटोग्राफी का भूत सवार हो गया। और उन्होंने फोटोग्राफी सीखने का कोर्स जॉइन कर लिया। और फिर उन्होंने अखबार में फ्री पोर्टफोलियो करके एक विज्ञापन दिया। जिसमें ग्राहको की एक लंबी भीड़ आने के बाद उन्होंने बताया कि यदि वह अपना रोल खुद लेकर आते है तो खर्चा 3000 तक आ जाएगा।

और यदि मुझसे करवाते है तो पैसे आधे हो जाएंगे। जिसके बाद उनका फोटोग्राफी का काम चल पड़ा। लेकिन कुछ वक़्त बाद उन्हें एहसास हुआ कि ऐसे तो वे जल्दी अमीर नहीं बन पाएंगे। तब उन्हें एक विचार आया कि क्यों ना फोटोग्राफी में कोई वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया जाए।

फिर क्या था 12 घंटे में 100 मॉडल्स की करीब 10000 फोटो खींचने का रिकॉर्ड संदीप माहेश्वरी ने मात्र 22 साल की उम्र में अपने नाम कर लिया। और धीरे धीरे उनका नाम देश में प्रसिद्द हो गया। और उनकी कंपनी एक ब्रांड बनकर उभरी। साथ ही साल 2006 में संदीप माहेश्वरी ने इमेजेस बाज़ार करके एक ऑनलाइन इमेज की कंपनी खोली।

और वक़्त बीतने के साथ साथ इमेजेज बाज़ार करोड़ों कमाने लगी। जिसके बाद उन्होंने एक लास्ट लाइफ चेंजिंग सेमिनार का आयोजन कर लाखों करोड़ों युवाओं को अपनी असफलता की कहानी से प्रेरित किया। और तब से ही संदीप माहेश्वरी युवाओं के बीच एक मोटिवेशनल स्पीकर के रूप में लोकप्रिय हो गए।

आज उनके सोशल मीडिया पर लाखों फॉलवर्स हैं। इतना ही नहीं आज इमेजेस बाज़ार के 7000 से ज्यादा खरीददार हैं, और पूरे भारत में इस कंपनी से करीब 11500 फोटोग्राफर जुड़े हैं। और एक रिपोर्ट की मानें तो संदीप माहेश्वरी के पास कुल 12 करोड़ की संपत्ति है।


संदीप माहेश्वरी के बारे में कुछ रोचक तथ्य – Success Story

Sandeep Maheshwari Biography in Hindi -  Wikipedia
Sandeep Maheshwari Biography in Hindi – रोचक तथ्य

जब संदीप माहेश्वरी ने इमेजेस बाज़ार को खड़ा किया उस वक़्त उनकी उम्र मात्र 26 साल थी।

मात्र 21 साल की उम्र में उन्होंने एक पुस्तक लिखी। जिसका नाम है मार्केटिंग मैनेजमेंट बाय संदीप माहेश्वरी। हालांकि उनकी यह किताब बाज़ार में अधिक नहीं बिकी थी।

संदीप माहेश्वरी ने आज तक जितने भी मोटिवेशनल विचार प्रस्तुत किए है, उसके लिए उन्होंने किसी से एक भी रुपया नहीं लिया है। उनके सारे मोटिवेशनल विडियोज यूट्यूब पर फ्री में शेयर किए जाते है। जिसके चलते आज उनके यूट्यूब पर 14 मिलियन सब्सक्राइबर्स हैं।

इतना ही नहीं संदीप माहेश्वरी ने यूट्यूब चैनल पर एड्स मोनेटाजइजेशन को बंद करवा दिया है। और वह यूट्यूब से एक भी पैसा नहीं कमाते हैं।

संदीप माहेश्वरी को यात्रा करना, फोटोग्राफी करना और साहसिक खेल खेलना काफी पसंद है।


संदीप माहेश्वरी को मिले पुरस्कार – Awards

  • साल 2010 में संदीप माहेश्वरी को ग्लोबल यूथ मार्केटिंग फोरम की ओर से स्तर यूथ अचीवर्स अवॉर्ड से नवाजा गया था।

  • इतना ही नहीं साल 2013 के भारत शिखर सम्मेलन में संदीप माहेश्वरी को रचनात्मक उद्यमी अवॉर्ड प्राप्त हुआ।

  • ब्रिटिश परिषद के द्वारा भी संदीप माहेश्वरी को युवा रचनात्मक उद्यमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

  • साथ ही बिजनेस वर्ल्ड द्वारा संदीप माहेश्वरी की भारत के होनहार उद्यमी का खिताब भी प्राप्त है।


संदीप माहेश्वरी के मोटिवेशनल विचार – Quotes

Sandeep Maheshwari Biography in Hindi – Quotes
  • जिस वक़्त आप खुद को महत्व देना शुरू कर देंगे, दुनिया आपकी कदर करना शुरू कर देगी।

  • दूसरे आपके बारे में क्या सोचते है, इसके बजाय आप अपने बारे में क्या सोचते है, ये मायने रखता है।

  • आपको शक्तिशाली होना है, इसलिए नहीं कि आप दूसरों को मारो पीटो, बल्की आपको मजबूत होना होगा, ताकि दूसरे नहीं पीट सके।

  • खुद पर शक करना बंद करो, कड़ी मेहनत करो, इसे पूरा करो।

  • अपनी असफलताओं के लिए खुद की आलोचना करना बंद करें, अपनी उपलब्धियों के लिए खुद की सराहना करना शुरू करें।

  • दूसरों पर हावी होने के लिए नहीं, बल्कि खुद पर विजय पाने के लिए शक्तिशाली बनो।

  • जब आप किसी काम में अपना शत प्रतिशत देते हैं, तभी आप सफल हो पाते हैं।

  • वह व्यक्ति जो सब कुछ जानता है कि मैं क्यों और क्या कर रहा हूं इसे इसे कैसे करना है, उसे कोई नहीं रोक सकता।

  • जब भी आप अकेला महसूस करे तो इस पृथ्वी पर सबसे अद्भुत व्यक्ति के साथ का आनंद लेना शुरू कर दें।

  • यदि आप हारने से डरते नहीं है, तो कोई भी आपकी हरा नहीं सकता है।

उपयुक्त तरह के ऊर्जावान विचारों से ओत प्रोत संदीप माहेश्वरी आज भारत की युवा पीढ़ी का मार्गदर्शन कर रहें है। साथ ही युवा पीढ़ी को अवसाद, चिंता और तनाव से मुक्ति दिलाने के लिए वह एक सच्चे गुरु की भांति रोशनी का उजाला चारों दिशा में फैला रहे है, जिसके प्रकाश से प्रकाशित होकर युवा अंधकार से उजाले की ओर बढ़ रहे हैं। और संदीप माहेश्वरी आज करोड़ों लोगों की पहली पसंद बनकर उभरे हैं।


Sandeep Maheshwari Biography in Hindi

नामसंदीप माहेश्वरी
पिता का नामरुप माहेश्वरी
माता का नामशकुंतला रानी माहेश्वरी
पत्नी का नामरूचि माहेश्वरी
भाई और बहन 1 बहन
जन्म स्थानदिल्ली
जन्म तारीख 28 सितंबर 1980
आयु 41 (2021 के अनुसार)
नागरिकता भारतीय निवासी
जाति बनिया (माहेश्वरी)
व्यवसाय वक्ता, फोटोग्राफर, व्यापारी
शिक्षा कॉमर्स में स्नातक
कॉलेज करोड़ीमल कॉलेज, दिल्ली
वैवाहिक स्थिति विवाहित
पत्नी का नाम रुचि संदीप माहेश्वरी
बच्चे1 बेटा और 1 बेटी
बेटे का नामह्रदय माहेश्वरी
कुल संपत्तिकरोड़ो में
लंबाई5 फीट 9 इंच
वजन60 करीब
फेसबुक पेजSandeepMaheshwariPage
बेवसाइट लिंकSandeepMaheshwari.com
यूट्युब लिंकSandeep Seminars
ट्वविटर लिंकSandeep Seminar
इंस्ट्राग्राम लिंकSandeep Maheshwari Instagram
पसंदीदा कार्यफोटोग्राफी, यात्रा करना
पसंदीदा किताबेंश्रीमद्भागवत गीता और बाईबिल
लेखकअ स्माल बुक टू रिमांइड यू समथिंग बिग
मार्केटिंग मैनेजमेंट बॉय संदीप माहेश्वरी
जीवन का लक्ष्यलोगों को भावनात्मक रूप से मजबूत बनाना
लोकप्रियता का कारणयुवा मोटिवेशनल स्पीकर

Sandeep Maheshwari Wiki in Hindi

1980जन्मवर्ष
1990पीसीओ की दुकान
2000फोटोग्राफी का व्यापार
2001जापानी कंपनी में कार्य़रत
2002स्वायत कंपनी का निर्माण
2003फोटोग्राफी में रिकॉर्ड
2006इमेजेस कंपनी का गठन
वर्तमान मेंयूटयूब पर मोटिवेशनल सेमिनारों का आयोजन

Sandeep Maheshwari Awards

ग्लोबल यूथ मार्केटिंग फोरमस्टार यूथ अचीवर्स अवार्ड
भारत शिखर सम्मेलनरचनात्मक उघमी अवार्ड
बिजनेस वर्ल्डसर्वश्रेष्ठ उघमी
ब्रिटिश हाई कमीशनशीर्ष युवा उद्यमी
मीडिया ग्रुपसर्वश्रेष्ठ उघमी


इसके साथ ही – Sandeep Maheshwari ki Jivani समाप्त होती है। आशा करते हैं कि यह आपको पसंद आयी होगी। ऐसे ही अन्य कई जीवनी पढ़ने के लिए हमारी केटेगरी – जीवनी को चैक करें।

All images are taken from – sandeepmaheshwari.com.


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page.