कुत्ते पर निबंध – About Dog in Hindi

आज हम कुत्ते के बारे में जानेंगे। अक्सर बच्चों से परीक्षा के दौरान कुत्ते पर निबंध लिखने को कहा जाता है। ऐसे में आज हम आपके लिए About dog in hindi, Essay on dog in hindi और 10 lines on dog in Hindi लेकर आए हैं। जिससे बच्चों को कुत्तों के बारे में अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त होगी।

Essay on Dog in Hindi

कुत्ता एक वफादार जानवर होता है। जिसे लोग अपने घरों में पालना पसंद करते हैं। कुत्ते के दो आंख, एक पूंछ, दो कान और चार पैर होते हैं। कुत्ते के मुंह में 42 दांत होते हैं। यह एक सर्वाहारी जानवर है। जोकि मांस और अनाज दोनों खाता है।

कुत्ते को आदमी का सबसे अच्छा दोस्त कहा जाता है। यह दिन में सोते हैं और रात को जागते हैं। कुत्ते रात को अपने मालिक के घर की देखभाल करते हैं। कुत्तों के सूंघने की क्षमता काफी अधिक होती है। इनका पूरा शरीर बालों से ढका हुआ होता है। कुत्ते के दांत नुकीले और काफी तेज होते हैं।

यह अजनबियों पर भौंका करते हैं। लेकिन इन्हें बच्चों के साथ खेलना काफी पसंद होता है। कुत्ते भी इंसानों की तरह सपने देखते हैं। और इनकी आंखें अधेरें में चमकती हैं। कुत्ते की आयु 10-14 वर्ष तक होती है। यह काले, भूरे और सफेद रंग के होते हैं।

कुत्ते काफी तेज दौड़ते हैं।इनकी दौड़ने की रफ्तार 70 किमी प्रति घंटा होती है। इसके अलावा यह पानी में भी तैर सकते हैं। फीमेल कुत्ता एक बार में 5-7 बच्चों को जन्म दे सकती है। कुत्ते के बच्चे जन्म के समय अंधे और बहरे होते हैं। फीमेल कुत्ते को अंग्रेजी में बिच और कुत्ते के बच्चे को पप्पी कहा जाता है। कुत्ते की लंबाई 6 से 33 इंच होती हैं।

इनका वजन लगभग 3 से 175 पाउंड होता है। यह अधिकतर घरों, जंगलों और सड़कों पर पाए जाते हैं। कुत्ता आपके मालिक का हाथ या पैर चाटकर सदैव अपने प्यार को दर्शाता है। साथ ही यह अपनी पूंछ हिलाकर अपनी भावनाओं को प्रदर्शित करते हैं। यह काफी समझदार जानवर होते हैं। जो किसी भी बात को आसानी से समझ जाया करते हैं।

इनके पैर में 18 या 20 नाखून होते हैं। इन्हें लुका छिपी का खेल काफी प्रिय होता है। कुत्तों के शरीर का सामान्य तापमान 100° से लेकर 102.5° फारेनहाइट होता है। इस प्रकार, कुत्ता व्यक्ति का सबसे अच्छा साथी माना जाता है।


10 Lines on Dog in Hindi

  1. आज से करीब 30 हजार साल पहले मनुष्य ने कुत्ते को पालतू बनाना शुरू किया था। जिसका वैज्ञानिक नाम canis lupus familiaris है।

  2. भेड़िए, लोमड़ी और सियार को कुत्ते का पूर्वज माना जाता है। जिनका 99% डीएनए एक दूसरे से मिलता जुलता है।

  3. भारत में कुत्तों की लेब्राडोर, जर्मन शेफर्ड, बुलडोग, बीगल्स, पग, गोल्डन रिट्रीवर, पामेरियन हंटिंग, रोटवीलर, पुडल आदि कई प्रजातियां मौजूद हैं। 

  4. वर्तमान में करीब 40 करोड़ कुत्ते दुनिया में मौजूद हैं। जिनमें से सालुकी नामक प्रजाति का कुत्ता सबसे पुराना माना जाता है।

  5. इस दुनिया का सबसे बूढ़ा कुत्ता मैगी (30 वर्ष) था। जोकि एक ऑस्ट्रेलियन कुत्ता था। तो वही अंतरिक्ष में जाने वाले फीमेल कुत्ते का नाम लैका था। 

  6. जन्म के समय कुत्ते ना तो देख पाते हैं और ना सुन पाते है। वह केवल अपने नाक के हीट सेंसर से अपनी मां को खोज पाते हैं।

  7. ईसाई धर्म की पवित्र पुस्तक में कुत्ते का 35 बार से अधिक उल्लेख किया गया है। हिंदुओं के पवित्र ग्रंथ महाभारत में भी यमराज कुत्ते का वेश धारण करके आए थे।

  8. कुत्ते की आंखों के ऊपर तीन पलकें होती हैं। जिनमें से तीसरी पलक उनके आंख के कोने और दोनों पलकों के नीचे होती है।

  9. कुत्तों को मुख्य रूप से केवल नाक और पंजों के आस पास ही पसीना आता है। साथ ही कुत्तों में 13 प्रकार का रक्त समूह पाया जाता है।

  10. कई देशों में कुत्तों को सेना में भर्ती करने, बीमारियों का पता लगाने और अन्य घरेलू कार्यों का प्रशिक्षण दिया जाता है।

इसके साथ ही हमारा आर्टिकल – Essay on Dog in Hindi समाप्त होता है। आशा करते हैं कि यह आपको पसंद आया होगा। ऐसे ही अन्य कई निबंध पढ़ने के लिए हमारे आर्टिकल – निबंध लेखन को चैक करें। इसी प्रकार की अन्य ज्ञानवर्धक जानकारियां को पाने के लिए Gurukul99 को फॉलो करना ना भूलें।


अंशिका जौहरी

मेरा नाम अंशिका जौहरी है और मैंने पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है। मुझे सामाजिक चेतना से जुड़े मुद्दों पर बेबाकी से लिखना और बोलना पसंद है।

Leave a Comment

You cannot copy content of this page.