बालक के शब्द रूप | Balak Shabd Roop In Hindi- Gurukul99

आज इस लेख में हम बालक से शब्द रूपों ले बारे में जानेंगे। सबसे पहले जानते है शब्द रूप क्या होता है तथा शब्द रूप किसे कहते है ।

शब्द रूप क्या होता है? | What is Shabd Roop

किसीवाक्य की सबसे छोटी इकाई को शब्त कहते है।  शब्दों के अनेक रूप होते है जैसे की – संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, इत्यादि। । संस्कृत में शब्दों को पद बनाया जाता है ।  

वाक्य के प्रयोग किये गए शब्दों को मूल शब्द या शब्द रूप कहते है।  

शब्दों के दो रूप होते है। एक मूल रूप जो शब्द कोष से मिलता है । और दूसरा जो किसी प्रकार के सम्बन्ध से युक्त होता है।

बालक शब्द का अर्थ:

बालक शब्द का हिंदी में अर्थ होता है – बच्चा, लड़का, शिशु, आदि। बालक एक संस्कृत का शब्द है।

बालक शब्द का परिचय

बालक शब्द  पुल्लिंग संज्ञा शब्द है। सभी पुल्लिंग संज्ञाओ के रूप इसी प्रकार बनाये जाते है।

जैसे– कृष्ण, राम, मास, तिथि, शिष्य, बाण, मृग, चिड़िया,सर्प,  मानव, अश्व, दिवस, ब्राह्मण, क्षत्रीय, छात्र, गज, बालक, शकट, देव, राम, वृक्ष, सुर,दीप,  चाप, सूर्य, दर्पण, विद्यालय, ग्राम,छाग, कूप,चन्द्र आदि। कहीं – कहीं न् का ण् एवं स् का ष् हो जाता है।

बालक के शब्द रूप

बालक एक संस्कृत का शब्द है। बालक शब्द रुप पुल्लिंग तथा बालक शब्द रुप स्त्रीलिंग दोनो में ही चलते है। स्त्रीलिंग में बालक शब्द को बलिका बनाया जाता है। बालक शब्द बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण हैं।

बालक(पुल्लिंग) के शब्द रूप

बालक शब्द के रूप सातों विभक्ति में एवं तीनों वचनों में यहाँ पर प्रस्तुत किये गए है –

बालक शब्द के रूप सातों विभक्ति में एवं तीनों वचनों में यहाँ पर प्रस्तुत किये गए है –

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमाबालकःबालकौबालकाः
द्वितीयाबालकम्बालकौबालकान्
तृतीयाबालकेन्बालकेभ्याम्बालकै:
चतुर्थीबालकायबालकेभ्याम्बालकेभ्य:
पंचमीबालकात्बालकेभ्याम्बालकेभ्य:
षष्ठीबालकस्यबालकयो:बालकानाम्
सप्तमीबालकेबालकयो:बालकेषु
संबोधनहे बालक!हे बालकौ!हे बालका!

यहां पर कारक के साथ बालक के रूप किस प्रकार बदलते हैं इस बारे में समझाया गया है तथा हिंदी अनुवाद सहित प्रस्तुत किया गया है –

    विभक्ति      कारक    एकवचन      द्विवचन      बहुवचन
प्रथमाकर्ताबालकः (सु)बालकौ (औ)बालकाः (जस्)
  –(बालक ने)(दो बालकों ने)(बहुत बालकों ने)
द्वितीयाकर्मबालकम् (अम्)बालकौ (औट)बालकान् (शस्)
  –(बालक को)(दो बालकों को)(बहुत बालकों को)
तृतीयाकरणबालकेन (टा)बालकाभ्याम् (भ्याम्)बालकैः (भिस्)
  –(बालक से)(दो बालकों से)(बहुत बालकों से)
चतुर्थीसम्प्रदानबालकाय (ङे)बालकाभ्याम् (भ्याम्)बालकेभ्यः (भ्यस्)
  –(बालक को, के लिए)(दो बालकों को, के लिए)(बहुत बालकों को, के लिए)
पञ्चमीअपादानबालकात् (ङसि)बालकाभ्याम् (भ्याम्)बालकेभ्यः (भ्यस्)
  –(बालक से)(दो बालकों से)(बहुत बालकों से)
षष्ठीसम्बन्धबालकस्य (ङस्)बालकयोः (ओस्)बालकानाम् (आम्)
  –(बालक का)(दो बालकों का)(बहुत बालकों का)
सप्तमीअधिकरणबालके (ङि)बालकयोः (ओस्)बालकेषु (सुप्)
  –(बालक में, पर)(दो बालकों में, पर)(बहुत बालकों में, पर)
प्रथमासम्बोधनहे बालक (सु)हे बालकौ (औ)हे बालकाः (जस्)
  –(हे एक बालक!)(हे दो लड़कों!)(हे बहुत से लड़कों!)

बालक(स्त्रीलिंग) के शब्द रूप

बालिका शब्द के रूप सातों विभक्ति में एवं तीनों वचनों में यहाँ पर प्रस्तुत किये गए है –

विभक्तिएकवचनद्विवचनबहुवचन
प्रथमाबालिकाबालिकेबालकाः
द्वितीयाबलिकाम्बालिकेबालकाः
तृतीयाबलिकायैबालिकेबालकाः
चतुर्थीबलिकायैबलिकाभ्याम्बालिकाभ्यः
पंचमीबालिकायाःबलिकाभ्याम्बालिकाभ्यः
षष्ठीबालिकायाःबालिकयोःबालिकानाम्
सप्तमीबालिकायाम्बालिकयोः:बालिकासु
संबोधनहे बालिके!हे बालिके!हे बालिकाः!

यहां पर कारक के साथ बालिका के रूप किस प्रकार बदलते हैं इस बारे में समझाया गया है तथा हिंदी अनुवाद सहित प्रस्तुत किया गया है –

    विभक्ति      कारक    एकवचन      द्विवचन      बहुवचन
प्रथमाकर्ताबालिकाबालिकेबालकाः
  –(बालिका ने)(दो बालिकाओं ने)(बहुत बालिकाओं ने)
द्वितीयाकर्मबलिकाम्बालिकेबालकाः
  –(बालिका को)(दो बालिकाओं को)(बहुत बालिकाओं को)
तृतीयाकरणबलिकायैबालिकेबालकाः
  –(बालिका से)(दो बालिकाओं से)(बहुत बालिकाओं से)
चतुर्थीसम्प्रदानबलिकायैबलिकाभ्याम्बालिकाभ्यः
  –(बालिका को, के लिए)(दो बालिकाओं को, के लिए)(बहुत बालिकाओं को, के लिए)
पञ्चमीअपादानबालिकायाःबलिकाभ्याम्बालिकाभ्यः
  –(बालिका से)(दो बालिकाओं से)(बहुत बालिकाओं से)
षष्ठीसम्बन्धबालिकायाःबालिकयोःबालिकानाम्
  –(बालिका का)(दो बालिकाओं का)(बहुत बालिकाओं का)
सप्तमीअधिकरणबालिकायाम्बालिकयोः:बालिकासु
  –(बालिका में, पर)(दो बालिकाओं में, पर)(बहुत बालिकाओं में, पर)
प्रथमासम्बोधनहे बालिके!हे बालिके!हे बालिकाः!
  –(हे एक बालिका!)(हे दो बालिकाओं !)(हे बहुत सी  बालिकाओं !)

यहां भी पढ़ें:

Leave a Comment

1 thought on “बालक के शब्द रूप | Balak Shabd Roop In Hindi- Gurukul99”

Leave a Comment